राष्ट्रीय शिया युथ ब्रिगेड ने पैश किया सऊदी मे मारे गये लोगों को ख़िराजे अक़ीदत

राष्ट्रीय शिया युथ ब्रिगेड ने किया एहतेजाज 
आज पानदरीबा मीर घर भुआ बाज़ार मस्जिदे मीर घर मे एक अहतेजाजी प्रोग्राम मुनअकित किया गया. 
जिसमे उलमाये कराम ने अपने तासुरात पैश किया. 
और सऊदी मे मारे गये बेगुनाह लोगों को ख़िराजे अक़ीदत पैश किया गया. 
और उन्हें याद किया गया. 
ये प्रोग्राम रास्ट्रीय शिया युथ ब्रिगेड की तरफ से मुनक़्क़त किया गया. 
इस जलसे मे हुज्जतुल इस्लाम मरग़ूब आलम अस्करी ने फ़रमाया की हमारी ये आवाज़ कभी खामोश नहीं होगी और हमारा ये क़ाफ़िला युही रवह दवा रहेगा. 
इसके बाद हुज्जतुल इस्लाम मौलाना मोहम्मद रज़ा साहब ने बयान किया की. 
ये शहीदो का लाहु है जिसकी हरारत हिन्दुस्तान तक आ पहुंची है और ये हैरत क़यामत तक रहेगी. 
इस प्रोग्राम की तीसरी तक़रीर हुज्जतुल इस्लाम मौलाना वासी मोहम्मद साहब ने 
उन्होंने कहा की आज ज़रूरत है इल्मी और इक़्तेसादी और सियासी हालत पे अपनी गिरफ्त को और मज़बूत करने की आज ज़रूरत है की हालत के साथ हम भी बदले और दुनया को बदलने की कोशिश करें. 
इसके बाद हुज्जतुल इस्लाम मौलाना निसार अहमद साहब ने कहा की बाले भले हमारा ये एहतेजाज मुख्तसर हो जैसे ज़ब नबीये खुदा को आग के हवाले किया जा रहा था तो एक नन्ही सी चिड़या अपने मिनकार से पानी डाल रही थी तो उससे किसे ने पुछा की इस आग मे पानी डाल के तुम क्या साबित aकरना चहेती हो तो उसने कहा की ज़ब नबीये खुदा की बात होंगी तो उसमे मेरा भी नाम जुड़ जाएगा की मैंने अपनी इस्तेताअत के मुताबक अमल किया. 
आखिर मे रास्ट्रीय शिया युथ ब्रिगेड के प्रदेश सचिव क़ाज़ी सय्यद बाक़िर मेंहदी आबिदी ने फ़रमाया की हमें इस वक़्त ज़ब की दुनया इस ज़ुल्म पे खामोश है हमें ज़ालिम के चेहरे से नक़ाब हटा देना चिहिए क्यूकि ख़ामोशी भी ज़ालिम की ताईद करती है. हमारी नहीफ आवाज़ क्यों ना हो मगर 
मगर ज़ालिम के खिलाफ है उसके बाद सऊदी मुर्दाबाद का नारा लगा...... 
मौलाना sye

Post a Comment

Previous Post Next Post