प्रतिबंधों के बावजूद ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की आय, 17 अरब डाॅलर तक पहुंच चुकी हैः रूहानी


  • प्रतिबंधों के बावजूद ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की आय, 17 अरब डाॅलर तक पहुंच चुकी हैः रूहानी
राष्ट्रपति रूहानी ने ईरान के ख़िलाफ़ दुश्मनों के व्यापक आर्थिक युद्ध की पराजय की तरफ़ इशारा करते हुए कहा है प्रतिबंधों के बावजूद इस समय ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की आय, 17 अरब डाॅलर तक पहुंच चुकी है।
डाॅक्टर हसन रूहानी ने सोमवार को तेहरान में देश के पेट्रोकेमिकल उद्योग की अहम हस्तियों से मुलाक़ात में कहा कि अगले दो साल में ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की पैदावार दस करोड़ टन तक पहुंच जाएगी। उन्होंने कहा कि पहले क़दम में ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की आय वर्ष 2021 तक 25 अरब डाॅलर तक और तीसरे क़दम के अंत तक 37 अरब डाॅलर तक पहुंच जाएगी। उन्होंने इसी तरह पेट्रोकेमिकल उद्योग की उपलब्धियों की प्रदर्शनी के निरीक्षण के अवसर पर कहा कि इस प्रदर्शनी में जो आंकड़े पेश किए गए हैं उनसे पता चलता है कि यह उद्योग, तीसरे क़दम की ओर छलांग लगाने के लिए तैयार हो रहा है और वर्ष 2021 के बाद ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की पैदावार तेरह करोड़ टन तक पहुंच जाएगी।

राष्ट्रपति डाॅक्टर हसन रूहानी ने इस बात का उल्लेख करते हुए कि दुनिया के लगभग सभी बड़े राजनेता इस बात को स्वीकार करते हैं कि ईरान से टकराव में अमरीका को पराजय हुई है, कहा कि ईरान के पेट्रोकेमिकल उद्योग की स्थिति सामान्य नहीं थी और उसने कड़े आर्थिक दबावों में ये सफलताएं हासिल की हैं। उन्होंने इस बात का उल्लेख करते हुए कि ईरानी राष्ट्र के ख़िलाफ़ प्रतिबंध और दबाव एक दिन समाप्त हो कर रहेंगे, कहा कि दुश्मन समझ चुके हैं कि अधिकतम दबाव से ईरानी जनता को झुकाया नहीं जा सकता।

Post a Comment

Previous Post Next Post