कासिम सुलैमानी और मोहनदीस की शहादत रायगा नहीं जाएगाी. मौलाना क़ाज़ी सय्यद बाक़िर मेंहदी

कासिम सुलैमानी और मोहनदीस की शहादत रायगा नहीं जाएगाी. मौलाना क़ाज़ी सय्यद बाक़िर मेंहदी. 



कजगांव सादात मासून्दा के इमाम जुमा 
और पानदरीबा मीरघर के रूहे रावा. 
क़ाज़ी सय्यद बाक़िर मेंहदी ने कहा की कासिम सुलैमानी और मुहान्दिस की सहादत ज़रूर रंग लाएगी क्यों की शहीद का ख़ून रायगा नहीं जाता है और इंशाअल्लाह अमेरिका के इस आतंगवादी हमले ने ये साबित कर दिया है की वोह खुला आतंगवादी है. जिसने isis से इराक की आज़ादी दिलाई और आतंगवादी के लिए दर्दे सीर थे उसी को धोके के शहीद कर देना एक बुज़दिलाना अमल है जो काइरो की अलामत है. 
और इंशाअल्लाह दुनया देखेगी की शैतान बुज़ुर्ग अपने इंजाम को ज़रूर पहुंचेगा.. 

Post a Comment

Previous Post Next Post