असेंबली इलेक्शन के बाद होगी बागीयो के खिलाफ कार्यवाही

असेंबली  इलेक्शन के बाद होगी बागीयो के खिलाफ कार्यवाही



 कांग्रेस के आलाकमान ने भाभी लीडर के खिलाफ फिलहाल खामोश रहने का फैसला किया है लेकिन असेंबली इलेक्शन के बाद इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है और इन को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है क्योंकि कांग्रेस के आलाकमान का ख्याल है कि जो मौका दिया जाना था वह सब इन्हीं दिया जा चुका है मूल की 5 दशकों में असेंबली इलेक्शन की तारीखों का ऐलान हो चुका है और कांग्रेस के आलाकमान और कांग्रेस पार्टी की सारी तवज्जो रैलियों और कागज पर स्वस्थ है कांग्रेस के पहले सत्र और रुक नेपाली मिनट राहुल गांधी भी पार्टी मौका देकर गर्मियों को फिलहाल कोई अहमियत नहीं दे रहे हैं और ना ही वहीं मामलात में फिलहाल उलझना चाहते हैं
 वजीर ए आजम ने अपनी जड़ों को याद रखा है गुलाम नबी आजाद ने की मोदी की तारीफ
 जम्मू उस कांग्रेस के सीनियर लीडर और भूतपूर्व  वजीरे आला गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की तरक्की सिर्फ कागजों पर है जबकि जमीनी सतह पर सूरते हाल बिल्कुल अलग है हालांकि आज उन्होंने वजीरे आजम नरेंद्र मोदी की भी तारीफ की और कहा कि वजीरे आजम मोदी पर होने के बावजूद इन्होंने अपनी जड़ों को याद रखा है खुद को सबसे चायवाला कहते हैं जम्मू में एक गाँव में गुर्जर तबके को सिताब  करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि लोगों को नरेंद्र मोदी से सीखने की जरूरत है जो कि वजीर आजम  बनने के बाद भी अपनी जड़ों को नहीं भूले 

Post a Comment

Previous Post Next Post