अमेरिका का फिर घिसा पीटा बयान, गेंद ईरान के पाले मे

 अमरीकी विदेश मंत्री ऐंटोनी ब्लिंकन ने एक बार फिर जेसीपीओए में लौटने के बारे में दावा किया कि गेंद ईरान के पाले में है।

उन्होंने तेहरान के वक़्त के मुताबिक़, बुधवार की शाम को ब्रसल्ज़ में एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में दावा कियाः “ईरान के संबंध में हम स्पष्ट रूप से कह चुके हैं कि कूटनीति का रास्ता साफ़ है।” उन्होंने कहाः “जब यूरोपीय संघ ने यह पेशकश रखी कि जेसीपीओए के सभी पक्ष एक साथ बैठ कर प्रतिबद्धताओं पर अमल की ओर लौटने की शैली के बारे में समीक्षा करें तो हमने सकारात्मक जवाब दिया लेकिन ईरान ने अब तक सहयोग न करने का रास्ता अपनाया है।” उन्होंने दावा किया कि “जैसा कि हम कह चुके हैं कि अब गेंद ईरान के पाले में है। अब देखना होगा कि क्या ईरानी कूटनीति का रास्ता अपनाते और समझौते का पालन करने की ओर लौटते हैं?”

 

उन्होंने एक बार फिर अमरीका का यह दावा दोहरायाः “अगर यह न हुआ तो अमरीका, ईरान से ऐसे समझौते की कोशिश करेगा जिसकी मुद्दत लंबी हो और उसमें कुछ दूसरे विषय भी शामिल हों।” उन्होंने इन विषयों में, पश्चिम एशिया के दूसरे देशों को अस्थिर करने और बैलिस्टिक मीज़ाईल जैसे मामलों को शामिल बताया। ब्लिंकन ने ऐसी हालत में ईरान पर कूटनीति को पीठ दिखाने का इल्ज़ाम लगाया और गेंद को ईरान के पाले में बताया कि अमरीका ही वह देश था जिसने पहले परमाणु समझौते जेसीपीओए से निकल कर तेहरान के ख़िलाफ़ बड़े पैमाने पर पाबंदियां लगायीं

Post a Comment

Previous Post Next Post