यूपी पंचायत चुनाव के दौरान ड्यूटी अंजाम देने वाले 706 शिक्षकों की कोरोना से मौत, कौन है ज़िम्मेदार

 


  •   जहा भारत मे कोरोना से हालात बद से बत्तर होते जा रहे है वही इक और चौकाने वाली ख़बर आई जिससे हालात का अंदाजा लगाया जा सकता है 

उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ का कहना है कि राज्य में पंचायत चुनाव के दौरान ड्यूटी अंजाम देने वाले 706 शिक्षकों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है।

शिक्षक संघ ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्य चुनाव आयोग को पत्र भेजकर पंचायत चुनाव प्राथमिक शिक्षकों और बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारियों की मौत की जानकारी देते हुए मांग की है कि पंचायत चुनाव की दो मई को होने वाली मतगणना टाल दी जाए।

मुख्यमंत्री, राज्य चुनाव आयोग और बेसिक शिक्षा मंत्री को यह पत्र भेजे जाने की पुष्टि प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. दिनेश चंद्र शर्मा ने की है।

प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा दी गई इस सूची में 72 ज़िलों में 706 शिक्षकों व कर्मचारियों के नाम दर्ज हैं, जिनकी चुनाव ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण के कारण मौत हुई है।

इस सूची के अनुसार, सबसे अधिक आज़मगढ़ में 34 शिक्षकों-कर्मचारियों की मौत हुई है। गोरखपुर और इलाहाबाद में 80-28, लखनऊ में 20, रायबरेली में 26 और जौनपुर में 23 शिक्षकों-कर्मचारियों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है।

शर्मा ने अपने ट्विटर हैंडल पर अखिलेश यादव को टैग करते हुए लिखा है कि ‘प्रति घंटे बेसिक शिक्षकों की मौत हो रही है। गुरुवार सुबह तक 600 से संख्या बढ़कर अब 700 हो गई है

#up

टैग

भारत 

Post a Comment

Previous Post Next Post