चुनावों में बाइडन ने चला रूस-यूक्रेन युद्ध का दांव, बोले- अगर रिपब्लिकन जीते तो रुक जाएगी जेलेंस्की को मदद

चुनावों में बाइडन ने चला रूस-यूक्रेन युद्ध का दांव, बोले- अगर रिपब्लिकन जीते तो रुक जाएगी जेलेंस्की को मदद
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने अमेरिकियों को आगाह करते हुए कहा कि यदि रिपब्लिकन इस मध्यावधि चुनावों में जीत जाती है तो यूक्रेन को अमेरिका मदद नहीं कर सकेगा और रूस फिर से युद्ध में हावी हो जाएगा।
पिट्सबर्ग, एजेंसी। अमेरिका में आने वाले दिनों में कांग्रेस (संसद) के मध्यावधि चुनाव होने वाले हैं। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने गुरुवार को रूस-यूक्रेन युद्ध का जिक्र कर रिपब्लिकन पार्टी को घेरने की कोशिश की। उन्होंने अमेरिकियों को आगाह करते हुए कहा कि यदि रिपब्लिकन 8 नवंबर के चुनावों में अमेरिकी कांग्रेस के एक या दोनों सदनों पर नियंत्रण हासिल करते हैं तो यूक्रेन को अमेरिका मदद नहीं कर सकेगा और रूस फिर से युद्ध में हावी हो जाएगा।
 अमेरिकी सहायता पर जताई चिंता
बाइडन ने कहा कि अगर भविष्य में यूक्रेन को अमेरिकी सहायता की जरूरत पड़ती है तो यूक्रेन खतरे में आ जाएगा, क्योंकि रिपब्लिकन ने सहायता करने से मना कर दिया है। बाइडन ने पिट्सबर्ग में एक सैंडविच की दुकान पर संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि मैं चिंतित हूं कि अगर रिपब्लिकन जीतते हैं तो यह इस युद्ध में आगे क्या होगा।
 सीनेट पर डेमोक्रेट के नियंत्रण की लड़ाई
बता दें कि बाइडन पिट्सबर्ग में डेमोक्रेट जान फेट्टरमैन के लिए प्रचार कर रहे थे, जो रिपब्लिकन मेहमत ओज के खिलाफ अमेरिकी सीनेट के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। गौरतलब है कि चुनाव यह निर्धारित करने में मदद करेगी कि डेमोक्रेट सीनेट पर नियंत्रण बनाए रखते हैं या नहीं।रिपब्लिकन नेता केविन ने यूक्रेन की मदद से किया था इनकार

कुछ दिनों पहले ही प्रतिनिधि सभा में रिपब्लिकन नेता केविन मैकार्थी ने कहा था कि अगर रिपब्लिकन मध्यावधि चुनावों में डेमोक्रेट्स से प्रतिनिधि सभा का नियंत्रण पा लेते हैं तो वह यूक्रेन सहायता के लिए एक खाली चेक तक नहीं लिखेंगे

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने